Home Full Form ISO Full Form – ISO की जानकारी हिंदी में

ISO Full Form – ISO की जानकारी हिंदी में

2 min read
1
0
311
ISo Full Form

Hello, Friends यंहा आज आपको बताने जा रहा हूँ|  ISO Full form के बारे में, ISO क्या है? और इसका Use क्या होता है?  इसका इस्तेमाल दुनिया भर के Products और Services में क्यों किया जाता है|

इस सब चीजो के बारे में इस लेख में बताया जा रहा है| यह एक Certificate होता है, जो कम्पनी के Products और उनकी सर्विसेज को मापने के लिए उन्हें दिया जाता है| आपने बहुत सी जगह ISO Word सुना होगा या फिर किसी भी कपनी के प्रोडक्ट पर इसका चिन्ह देखा होगा|

ISO के कुछ अलग अलग भाग हे जैसे 9000, 9001 जिसमे सबसे Latest Version 9001 है, तो चलिए जानते है और भी विस्तार से ISO के बारे में,

 

ISO Full Form और ISO की जानकारी –

ISO = International Organization for Standardization यह होती है ISO की फुल फॉर्म और  इसका हिंदी अर्थ होता है| अंतरराष्ट्रीय मानकीकरण संगठन, आपको बता दे की ISO Organization की स्थापना 23 Feb 1947 में हुयी थी|

इसका मुख्यालय Switzerland के Geneva City में ISO संगठन में दुनिया भर के अलग अलग देशो के प्रतनिधि है| जिनमे कुल मिलकर ISO के 163 देश मानक सदस्य है| यह इक  Non-Governmental, Non-Profitable, विश्व संस्था है. जो व्यापर कंपनियो को उत्पादन, खाद्य, कृषि और सुरक्षा प्रदान करते  है.

किसी भी कम्पनी में बनने वाले प्रोडक्ट और उनकी सर्विसेज की quality के आधार पर यह worldwide iso संस्था उस कम्पनी को उनके प्रोडक्ट मार्किट में लाने का प्रमाण पत्र देते है| देशो के बीच होने वाले खाद्य व्यापार की शुद्धता जाचने के लिए यह बहुत बड़ी डेवेलोप संस्था है|

जो विश्व बाजार में राष्ट्रों को सुविधा प्रदान करती है| ISO का अभी Latest Version 9001 है जिसके आधार पर सभी चीजो की जानकारी चेक की जाती है, इससे पहले इसका Version 9000 था| लेकिन यह समय के साथ साथ अपडेट होते रहते है|

List Of Popular ISO (International Organization for Standardization)

इनमे कुछ सबसे ज्यादा Popular ISO भी है, जो अलग अलग कार्य के लिए इस्तेमाल होते है| आइये जानते है उन सभी के बारे में,

  • ISO 9000: It is used for Standardization of Quality Management.
  • ISO 50001: It is a Standard for Energy Management.
  • ISO 14000: It is used for Standardization of Environmental Management.
  • ISO 10012: It is used to Measure Management System.
  • ISO 2768-1: It is used to provide an standard for General Tolerance.
  • ISO 31000: It is a standard for Risk Management.

ये है, Popular ISO की लिस्ट जो अलग अलग कार्यो को करने के लिए इस्तेमाल होते है|

Benifets of ISO certificates –

अगर अपना खुद का व्यापार (Business) Start करना चाहते है, तो उनके लिए आपको अपनी कम्पनी को ISO के द्वारा verify करवाना पड़ेगा उसके बाद ISO Certificate आपकी कम्पनी के product की शुद्धता को देखते हुए दिया जायेगा|

Full Form of ISO के बारे में तो आप जान गये, अब जानिए ISO certificate आपकी कम्पनी में बनने वाले प्रोडक्ट्स की Quality को show करता है. जो की निम्न प्रकार से दी गयी है.

  • ISO के द्वारा हमारे प्रोडक्ट्स को बाजार में विस्वसनीय बनाया जाता है
  • Products पर ISO का logo चिन्ह होने से customer को उत्पात की शुद्धता पर भरोसा होता है.
  • उत्पादों की सुरक्षा और उनकी कीमत को सही प्रकार बनाये रखना भी.

ISO is world’s Largest developer of voluntary International Standards Organization.

Also, Read –

Conclusion:

ये थी जानकारी ISO Full form के बारे में जिसमे हमने आपको बताया की ISO certificate क्या है और यह business को Start करने के लिए कितना जरुरी है,  मुझे आशा है की आपको ये जानकारी हेल्पफुल लगी होगी और ISO के बारे में सब चीजे अच्छे से समझ गये होंगे| ऐसी ही एजुकेशन से Related जानकारी लेने के लिए हमसे जुड़े रहे|

 

Please इसे सोशल मीडिया पर जरूर Share शेयर करे| धन्यवाद्

Load More Related Articles
Load More By Hindi Study
Load More In Full Form

One Comment

  1. saurabh

    March 9, 2018 at 9:49 pm

    Thanks sir
    for good information

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

CID Full Form In hindi और CID के बारे में पूरी जानकारी

दोस्तों इस पोस्ट में हम आपको CID के बारे में जानकारी देने जा रहे है कि CID का मतलब क्या है…